बाजू वाली माल को पटा कर मस्त चोदा baju wali maal ko mast choda: - Antarvasna Sex Stories

Tuesday, 10 November 2020

बाजू वाली माल को पटा कर मस्त चोदा baju wali maal ko mast choda:

 gand chudai ki kahani दोस्तों, मैं 25 साल का मनोज बनारस से हूँ, देखने में मेरा बदन गठीला है क्यूंकि मैं जिम जाता हूँ फिसिकल फिट रहना मुझे अच्छा लगता है | और मैं गोरा भी हूँ और मुझे लम्बे बाल रखना भी बहुत अच्छा लगता हैं देखने में एक दम हीरो जैसा लगता हूँ कमीने फिल्म का | इसी के साथ मैं एक अच्छे खासे जिस्म का मालिक हूँ और मेरे लंड का साइज़ भी इतना लम्बा है की किसी की भी चूत का भोसड़ा बना दूं और उसे आनंद की प्राप्ति कराऊँ|

आज मैं आप लोगों के सामने अपनी जिन्दगी का वो हसीन पल शेयर करने जा रहा हूँ जो मैंने कभी नहीं सोचा था की कभी मेरे साथ ऐसा कुछ होगा |

हमारे पड़ोस में एक आंटी और और उनकी बेटी रहने आये थे उनके पति नहीं थे बस वो दोनों ही थे | उनकी बेटी क्या माल लड़की थी एक दम गोरी चिट्टी और बड़े उभरे दूध मोटी गांड क्या बताऊ बस एक दम परी जैसी लग रही थी वो जब मैंने उसे देखा था वो स्कर्ट और टाइट टॉप में थी उसकी गोरी टाँगे देख के तो मेरा लंड खड़ा हो गया था | यह घटना करीब 4 महीने पहले की है |

अब मैं आता हूँ कहानी पर उम्मीद करता हूँ आप लोगों को मेरी यह घटना पसंद आयगी|

 

मैं आपको उस लड़की के बारे में तो बता चूका हूँ, उसकी उम्र 18 साल की थी| धीरे धीरे उनकी मम्मी और मेरी मम्मी से जान पहचान बढ़ी ऐसे ही जान पहचान बढ़ने से हमारा उनके घर जाना आना बढ़ा फिर हम कुछ ही समय में काफी घुल मिल गये |

एक दिन दोपहर की बात है मैं उनके घर गया था तो मेन गेट खुला था | तो मैं ऐसे ही अन्दर आ गया और मेने आवाज लगायी तो घर में बस प्रिया अकेली थी उसकी मम्मी ऑफिस गयी थी मैंने उसे आवाज़ मारी तो उसने चिल्ला के कहा मैं नहा रही हूँ तुम बैठ जाओ |

मैं सोफे में जा के बैठ गया |

थोड़ी देर बाद प्रिया बहार आई.. मैं उसे देखता ही रह गया और मेरा लंड खड़ा हो गया | इस वक़्त क्या क़यामत लग रही थी गीले बाल और उसने पुरे बदन में तोलिया लपेट रखा था | मैं प्रिया को टुकुर टुकुर देखे जा रहा था | उसके दूध आआह्ह्ह्ह क्या दूध का शेप दिख रहा था यार इतने बड़े दूध थे की मन तो कर रहा था की अभी उसके दूध को लपक के चूसने लगूं और खूब दबाऊँ उसके दूध |इधर प्रिया भी मेरे लोअर को फूलते हुए देख रही थी ऐसा लग रह था जैसे मेरा लंड लोअर फाड़ के बहार निकल आयगा | प्रिया ने स्माइल देते हुए कहा की तुम थोड़ी देर रुको मैं अभी कपडे पहन के आती हूँ | फिर वो अपने रूम में में चली गयी और अपने रूम का दरवाजा थोडा खुला रखा | उस दरवाजे से मुझे अन्दर का नज़ारा साफ साफ़ दिख रहा था | प्रिया ने अन्दर जाकर अपने बदन से तोलिये को हटाया और उसी तोलिये से अपने पूरे बदन को हलके हाथो से पोछने लगी |

मेरे मन में प्रिय को नंगी देखने की इच्छा जाग रही थी | मुझे डर भी लग रहा था लेकिन मैंने मन में सोच ही लिया था की अब जो होगा देखा जायगा और मैं देर न करते हुए कमरे के पास चला गया , अब मैं प्रिया को को छुपकर देख रहा था वो अपनी चूत साफ़ कर रही थी | दरवाजे की हलकी सी गहराई से मैं ठीक से नहीं देख पा रहा था क्यूंकि उसका चेहरा अन्दर की तरफ था | अब प्रिया अपनी पिंक कलर की पेंटी पेहेन रही थी फिर पिंक कलर की ब्रा पहनी और उसके ऊपर से टॉप डाला और जीन्स पहनी | मैं उसको देख कर भूल ही गया था की मैं कहा खड़ा हूँ और अपने लंड को अपने लोअर के ऊपर से ही दबाने लगा | तभी एक दम से प्रिया घूम गयी वो मेरी तरफ देख कर बोली मनोज ये कर रहे हो तुम ?

मैं एक दम से चौंक गया मैं बोला की प्री…प्रिया ,,,,,कक….कुछ नहीं ….

वो बोली क्या कुछ नहीं तुम यहाँ क्या कर रहे हो मैंने तो तुम्हे सोफे में बेठने को कहा था न यहाँ कैसे आ गये तुम |

फिर मैंने कहा सॉरी प्रिया पप्लीज मुझे माफ़ कर दो मुझे माफ़ कर दो मेरे घर में तुम किसी को नहीं बताना इस बारे में जो कुछ भी आज हुआ |

वो बोली मैं कपडे पहन रही थी और तुम मुझे देख रहा थे |

मैं एक दम शांत खड़ा रहा था मैं एक शब्द नहीं बोल पा रहा था |

फिर एक दम से प्रिया नें कहा बड़े ही प्यार से बोला की चल अच्छा छोड़ तुझे माफ़ किया अब यहाँ बैठ जा |

अब प्रिया मुझे बड़े ही मदहोश भरी नज़रों से देख रही थी और मैं एक दम शांति से बैठा रहा चुपचाप |

फिर वो बोली कि मुझे पता है तू क्या देख रहा था ?

फिर मैंने कहा आई ऍम सॉरी प्रिया मुझसे गलती हो गयी !

फिर उसने कहा की मैं तुम्हे बहुत दिनों से नोटिस कर रही हूँ तू मुझे देखता रहता है क्या बात है ?

जब मैं ऊपर कपडे सुखाने जाती हूँ तब भी तू मुझे देखता और अपने लोअर सही करता रहता है |

मैंने सोचा चलो ये अच्छा मौका है हाथ से नहीं जाना चाहिए क्यूंकि अब शायद वो भी गरम हो चुकी थी | मैंने तुरंत ही उसका हाथ पकड़ के बोल दिया प्रिया तू मुझे बहुत अच्छी लगती है मैं तुझसे प्यार करता हूँ और शादी भी करूँगा |

फिर प्रिया ने मुझे भी अपनी आँखों में भर के देखा और बोली तू भी मुझे बहुत अच्छा लगता है पर मैं कह नहीं पाती थी तुझसे |

बस उसका इतना ही कहना था और मैं झट से अपने होठ उसके होठ में रख दिए और चूसने लगा |

प्रिया भी मेरा साथ देने लगी कभी मैं उसके ऊपर लेट के किस कर रहा था कभी वो मेरे ऊपर लेट के किस कर रही थी | मैं एक हाथ से उसके दूध दबा रहा था और वो और नशे में पागल हुए जा रही थी कामुकता साफ़ झलक रही थी उसके चेहरे से |

कुछ ही देर में मैंने उसे नंगी कर दिया और वो बस अब ब्रा और पेंटी में रह गयी थी |

फिर वो बोली की चलो बेड पर चलते हैं !!!!

मैं उसको किस करते हुए बोला की चलो और मैं उसे चुमते हुए ही गोद में उठाया और बेड पर ले गया और फिर बहार से कमरे की कुण्डी लगा दी | और फिर जेसे ही वापस आया तो देखा की वो नंगी हो कर लेटी है | मैं उसके पेरो को चूमने लगा और दोनों पैरो को बारी बारी से चूम रहा था और हाथो से सहलाते भी जा रहा था उसे बहुत मजा आ रहा था | फिर मैं ऊपर गया और उसे फिर से किस करने लगा उसके बाद उसके दूध को पीने लगा और जोर जोर से दबाते भी जा रहा था वो एक दम मदहोश हो गयी थी और उऊंन्ह्ह अआः आः अहा आहा अहाहहः ऊउन्न्ह की आवाज़े निकाल रही थी |

उसे बहुत ही मजा आ रहा था फिर उसके दूध पीने के बाद मैं उसकी चूत पे हाथ फेर रहा था तभी उसने कहा की मेरी चूत चाटो न मेने कहा जान थोडा सब्र कर सब करुँगा | फिर मैं उसकी चूत में दो उंगलिया डाल के अन्दर बहार करने लगा और वो अआहाहा ऊउन्न्भ्ह आः… ऊउन्ह्ह…. कर रही थी और मेरे सर के बाल पकड़ के सहला रही थी | फिर मैं उसकी चूत पे अपनी जीभ डाल के अन्दर तक चाट रहा था और तब वो पागल सी हो गयी और आनः अआहन्हा अआहा अहाहा आहा हहहः अहहहः कर रही थी | वो एक बार झड चुकी थी इसी बीच में फिर उसने मेरे लंड को बहार निकाला और अपने मुह में लेकर चूस रही थी | उसे मेरा लंड बहुत पसंद आया और वो मजे ले ले के चूस रही थी मेरे लंड को हर जगह से चाट रही थी | और मैं उसके दूध दबा रहा था और वो मेरे लंड चूस रही थी फिर इसके बाद मैंने उसकी टाँगे चौडी करके अपना उसकी चूत में डाल दिया|

और वो जोर से चिल्ला उठी आहा आहा हाह्ह्ह्हह्ह उसे मजा आ रहा था ओर वो आहा हा हह्ह्हा ऐऊउन्न्ह उऊंनंह आआ हां हाहाहा आहाहाह कर रही थी और कह रही थी और चोदो मुझे | जोर से चोदो मैं उसे हर एंगल से चोद रहा था उसे गांड मरवाने का शौक भी था मैंने उससे पुछा की क्या तुम गांड में लोगी उसने हाँ में सर हिला दिया | फिर क्या था मैंने उसकी गांड में वेसलीन लगायी अन्दर तक और अपने लंड में भी लगायी उसके बाद मैंने उसे खूब चोदा उसकी खूब गांड मारी | उसे मुझसे चुदवाने में मजा आ रहा थी इसलिए वो बस अआः आअहहह अहाहहः ह्ह्हाआ उऊंन्ह्ह ऊउन्न्ह अआहा हाः आहाहहहः की आवाज़े निकाल रही थी | मैंने उस टाइम उसे दो बार चोदा था फिर मैं घर आ गया था |

दोस्तों ये रही मेरी एक दम रियल घटना पढ़ के कमेंट देना कि कैसे लगी आपको मेरी ये स्टोरी आप सब का धन्यवाद मेरी स्टोरी पढने के लिए |

1 comment: