Monday, 7 October 2019

हिंदी सेक्स स्टोरी स्कूल टीचर की नंगी चुदाई

By
Hindi sex story स्कूल टीचर की नंगी चुदाई Antarvasna सेक्स स्टोरी में आप लोगो का स्वागत है। आज मै बताऊ गा की मैने केसे स्कूल टीचर(मैडम) को नंगी करके चोदा। मेरा नाम है राहुल और मै हरियाणा का रहने वाला हु। मेरा लंड करीब 6 से 7 इंच लम्बा और काफी मोटा और तगरा। मै हरपाल एक मस्त चूत के लिए बेताब रहता हु।
मै 19 साल का हु। कॉलेज में हु । हमारे कॉलेज में एक हॉट ,सेक्सी, बड़े चूची वाली मैडम थी। जिसे देखते ही पुरे कॉलेज के स्टूडेंट का लंड मैडम को चोदने के लिए खड़ा हो जाता था। मैडम का बूब्स पूरी तरह से दिखाई देते थे।
जब मै मैडम की ओर देखता था तो मुझे ऐसा लगता था की मैडम की बूब्स मेरे हाथो टीपने के लिए बेताब है। मै भगवन से हर पल बस एक ही प्राथना करता था की बस एक बार मैडम को चोदने का मोका मिल जाये।
स्कूल के टीचर(मैडम) को नंगी करके चोदा

Hindi sex story


स्कूल के टीचर(मैडम) को नंगी करके चोदा
मैडम का नाम माया था। वह बायोलॉजी की टीचर थी। मैडम को चोदने के लिए मैंने बायोलोजी क्लास भी जॉइन कर लिया। मैडम माया रोज क्लास लेने आती थी और मै मैडम के बूब्स,कमर, नाभि और पेट कोही देखा करता था।
मैडम रोज सपनो में आती थी और मे रोज उन्हें सपनो में चोदा करता था। मैंने माया मैडम के करीब जाने के लिए उपाई निकालने लगा। मुझे समज में नहीं आ रहा था की मे क्या करू। तब मेने सोचा की अगर मै मैडम से अलग से मुझे पढ़ाने को कहू और मैडम मान जाए तो मेरा काम बन सकता है। मैने माया मैडम से बात की पर मैडम तुरंत मना कर दिया। मैने भी मैडम को फोर्स(जबरजस्ती) नहीं किया।
दो दिन बाद माया मैडम ने मुझे बुलाया और कहा - मै देख रही हु तुम राहुल दो दोनों से उदास हो,मैंने पढ़ाने से तुम्हे मना कर दिया इश rलिए तुम उदास हो। ठीक हे मै तुम्हे पढ़ाने के लिए तैयार हु। पर वादा करो मै जो भी बताऊ गी तुम मनसे करेगा। और पूरी ध्यान से पड़ेगा। hindi sex story

मैडम ने पड़ने के लिए मुझे अपने घर बुलाई थी। कॉलेज से छुट्टी होने के बाद मै सीधा माया मैडम के घर चला गया। माया मैडम कॉलेज से आने के बाद घर पर एक शोर्ट कुर्ती और स्कार्ट पहनती थी जिसमे वहा 18 साल की लड़की लगती थी। मैंने जब माया मैडम को इस रूप में देखा तो मै देख ता ही रहा गया। मैंने मैडम को देखते ही बोल बेठा की , मैडम आप तो बहुत यंग लड़की लगरहि हो। मैडम ने सुनकर हँसा फिर बोला आओ अन्दर। मैंने मन ही मन सोचा की कास आज ही चांस मिलजाए माया मैडम को चोदने का। मै सोचते-सोचते मैडम के पीछे-पीछे घर के अन्दर चल परा ।

मैंने मैडम से पूछा - माया मैडम क्या आप घर में अकेली रहती है। आप के साथ कोन-कोन रहता है।
माया मैडम - हां मै अकेली रहती हु। मैरे माता-पिता लखनो में रहते है। राहुल तुम जानते हो, मै अभी-अभी कॉलेज से आई हु, मै बाथरूम मैं नहाने जा रही हु तुम पड़ो और बहार का दरवाजा जरुर लॉक कर देना ताकि कोई अनजान ब्यक्ति घर में घुस ना आय।

मैंने माया मैडम को चोदने का पक्का प्लान बना लिया। जब माया मैडम बाथरूम में नहाने चली गई तो, मेने बाथरूम के दरवाजे के सामने तेल गिरा दिया ताकि जब मैडम बाथरूम से वाहर तो उनका पैर फिसल जाये और वह गिर परे और मेरा काम आसान हो जाये। ठीक मेने जेसा सोचा था वही हुआ। मैडम गिर गई और मुझे पुकारने लगी , राहुल मेरी मदत करो में गिर गई हु , आओ राहुल मदत करो। hindi sex story

मैंने सुनते ही मैडम के मदत के लिए दोरा चला गया। मैडम छोटी सी टावल में लपटी हुई थी और उनका जांग पूरा खुला हुआ था , उनके बाल भी बिखरे हुए थे। माया मैडम टावल में बहुत ही हॉट दिख रही थी मेरा लंड पूरी तरह से खड़ा हो गया। माया मैडम को चोदने का बहुत मन कर रहा था। पर मैंने खुद को काबू में रखा और माया मैडम को गोद में उठा कर कमरे में लेगाया।

यहाँ कहानी आप हिंदी अन्तर्वासना सेक्स स्टोरी पर पड़ रहे है

कमरे में ले जाते ही मेने मैडम को लेटा दिया। मैडम के पैरो में काफी चोट आई थी वह उठ नही पा रही थी। मैंने मैडम को कहा, क्या मै आपका पैर दबा दू ,, मैडम कुछ कहने से पहले मैंने माया मैडम का पैर दबाना शुरू कर दिया । मैडम को भी आराम लगने लगा फिर मैडम मुझे कुछ भी नहीं कही। hindi sex story

पहले तो मेने पैर दबाना आराभ्म किया फिर धीरे-धीरे मैडम के जंगो को दबाने लगा और जंगो को दबाने के बहाने के कभी-कभी अंगुलियो से मैडम के चूत पर पैसर(चाप) देने लगा।
जब मैंने पहली बार मैडम के चूत पर अंगुली से पेसर दिया था तो वह आखे खोली और मेरे देखने लगी लेकिन कुछ भी नहीं बोली। माया मैडम का यह संकेत देख कर मेरा हिम्मत बढ़ गया और मै आपना काम जरी रखा।
आब मैंने आपने हाथो को माया मैडम के चूत पर रख दिया और टावल के ऊपर से ही चूत को सहलाने लगा। मैंने लगभग 2 से 4 मिनट मैडम के चूत को सहलाया पर मैडम ने मुझे मना नहीं की। मैंने सोचा की लगताहे मैडम को भी मजा आरहा है। मैंने मैडम को कहा - माया मैडम आपकी टावल भीग गया है क्या मै इसे खोल दू। hindi sex story

माया मैडम ने कोई जबाब नहीं दिया तो मेने टावल को खोलना आरम्भ किया। मैडम ने आपने बूब्स( चूची ) के ऊपर टावल को बाधा था। मैंने टावल के गाठ को खोल दिया और मैडम को थोरा से ऊपर उठा कर टावल को निकाल लिया। आब माया मैडम पूरी तरह से नंगी हो चुकी थी। मैंने एक हाथ को मैडम के बूब्स के ऊपर रखा और दुसरे हाथ को उनके चूत के ऊपर और सहलाने लगा। मेरा लंड पूरी तरह से मैडम के चूत को देख कर खड़ा ओर लोहे जेसा मजबूत हो गया था। मुझसे और सहा नहीं जा रहा था। मैंने भी आपना पूरा कपड़ा उतार दिया और आपने लंड को मैडम के चूत के ऊपर रख दिया और धीरे-धीरे लंड को घसने लगा। माया मैडम का शारीर पूरा गरम हो गया था और मैडम का बुर(चूत ) मेसे मानो आग निकल रही है। लंड को मैंने मैडम के चूत मै धीरे-धीरे घुसाने लगा और मैडम की मुह से आह्ह-आह की आवाजे निकलने लगी । मैंने जब एक जोर सा झटका लगाकर पुरे लंड को मैडम के चूत मे घुसा दिया तो मैडम चीख कर उठ गयी और मुझे जाकर कर पकड़ लिया और कहने लगी - राहुल थोडा धीरे अन्दर डालो मुझे दर्द हो रहा है यहाँ मेरी पहली चुदाई है ,जरा धीरे चोदो मुझे यार मेरे।


मैंने मैडम जी का एक भी बात नहीं मानी और जोर-जोर से तेज गति मे चोदता रहा। मैडम चिल्लाती रही और मै चोदता रहा ।
माया मैडम के चुचिओ ओर होठो को चूसता रहा और चूत को चोदता रहा। करीब आधा घंटा महनत करने के बाद मैं झार गया और आपनी लंड के सारे बिर्य को मैडम के चूत मे ही छोड़ दिया ।

हम दोनों ही झर गए और फिर माया मैडम से मैंने आपनी लंड चुसवाई और मैंने भी मैडम का चूत चाटा। गर्म होने के बाद हम दोनों ने फिर चुदाई की। आब हमारे बिच कुछ भी नहीं छिपा है। हम लोगो का जब भी मन करता है तब सेक्स करते है। hindi sex story

अगर मैरी कहानी आप को अच्छी लगी तो जरुर शेयर करे और कमेंट करके बताये। और जरुर बताये किस टॉपिक पर कहानी लिखू।

0 comments:

Post a Comment